पीएम मोदी के रूस पहुंचते ही पुतिन ने यूक्रेन पर 40 मिसाइलों से किया बड़ा हमला

पीएम मोदी के रूस पहुंचते ही पुतिन ने यूक्रेन पर 40 मिसाइलों से किया बड़ा हमला

रूस ने यूक्रेनी राजधानी कीव और अन्य यूक्रेनी शहरों पर 8/जुलाई की सुबह-सुबह को हाइपरसोनिक मिसाइल से हमला किया। हमले में कम से कम 38 लोग मारे गए और 190 घायल हो गए उन्हें सहायता मिल रही है। यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोडिमिर ज़ेलेंस्की का कहना है कि

“रूसी सेना ने 40 से अधिक मिसाइल यूक्रेन के विभिन्न शहरों पर दागा है। जिनमें लुकियानिव्स्का, द्निप्रो, कीव, स्लोवियास्क और क्रामाटोरस्क शामिल हैं। यूक्रेन की वायु सेना ने 30 मिसाइलों को रोका दिया पर10 मिसाइल शहरों पर गिर गई”।

ओखमाटडाइट बच्चों का अस्पताल मिसाइल गिरने से भरी नुकसान

कीव के लुकियानिव्स्का इलाके में ओखमाटडाइट बच्चों के अस्पताल पर मिसाइल गिरने से भरी नुकसान हुआ है। हर साल हज़ारों बच्चे, जिनमें कैंसर से पीड़ित बच्चे भी (Okhmatdyt Children’s Hospital) में इलाज कराते हैं। यह कीव का सबसे बड़ा बच्चों का अस्पताल था। मिसाइल दो मंजिला अस्पताल के अंदर वहा गिरी जहां बच्चों का अपोहन (डायलिसिस) का इलाज होता है।

source:-KUOW

इमारत की छत ढह गई, जिससे कम से कम दो अस्पताल कर्मचारियों की और एक डॉक्टर की मौत हो गई। कम से कम 16 लोग घायल हुए हैं, जिनमें 7 बच्चे शामिल हैं। रूसी मिसाइल हमले के बाद बचाव अभियान जारी है। अब रोगियों को बाहर अपना इलाज कराने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है।

रूस ने हमले की जिम्मेदारी से इनकार कर दिया

रूस ने नागरिक स्थल को निशाना बनाने से इनकार किया है और कहा की हमलों में यूक्रेन के सैन्य ठिकानों को निशाना बनाया गया है।

आगे पढ़िए: पाकिस्तान का ऑफर सुन कर लगातार हस्ते रहे पुतिन SCO summit में

हमले के बाद यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोडिमिर ज़ेलेंस्की ने अपने सोशल मीडिया पर यह कहा

कुछ क्षेत्रों में जहाँ मिसाइलें गिरीं, रात भर बचाव अभियान जारी रहा, जिसमें लगभग 400 बचावकर्मी शामिल थे। मैं उन सभी का आभारी हूँ जो हमारे लोगों को बचा रहे हैं और उनकी देखभाल कर रहे हैं, इसमें शामिल सभी लोगों का और मदद करने वाले सभी लोगों का धन्यवाद।

उन्होंने यह भी कहा की “हम रूसी आतंक से अपने शहरों और समुदायों की सुरक्षा के लिए अपना काम जारी रखते हैं। मैं उन सभी नेताओं का भी धन्यवाद करता हूँ जिन्होंने हमारा समर्थन किया और रूसी आतंक से लोगों की जान बचाने के लिए नए संयुक्त कदम तैयार कर रहे हैं”।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
%d bloggers like this: