भारत का दोस्त रूस अमेरिका के प्रतिबंधों के बावजूद बना उच्च-आय वाला देश

रूस अमेरिका के प्रतिबंधों के बावजूद बना उच्च-आय वाला देश

रूस दुनिया का सबसे ज़्यादा प्रतिबंध वाला देश है, जिस पर अमेरिका द्वारा 18,772 से ज़्यादा प्रतिबंध लगाए गए है। इन प्रतिबंधों और यूक्रेन से युद्ध के बावजूद, विश्व बैंक के अनुसार, रूस एक उच्च-आय वाला देश बन गया है। रूस की आय का मुख्य स्रोत रूस के तेल और प्राकृतिक गैस से आता है।

वर्ल्ड बैंक ने पर कैपिटा इनकम के हिसाब से दुनिया के सभी देशों को चार अलग-अलग कैटिगरीज में रखा है; 2023 से 2024 का आंकड़ा

  1. कम-आय: वर्ल्ड बैंक के अनुसार जिस देश का एक आम आदमी एक साल के ₹ 95000 के आसपास कमाता है, वो कम-आय वाला देश है
  2. निम्न-मध्यम-आय: वर्ल्ड बैंक के अनुसार जिस देश का एक आम आदमी एक साल के ₹ 95000 से 3,70,000 के आसपास कमाता है, वो निम्न-मध्यम-आय वाला देश है
  3. उच्च-मध्यम-आय: वर्ल्ड बैंक के अनुसार जिस देश का एक आम आदमी एक साल के ₹ 3,70,000 से 11,70,000 के आसपास कमाता है, वो उच्च-मध्यम-आय वाला देश है
  4. उच्च-आय: वर्ल्ड बैंक के अनुसार जिस देश का एक आम आदमी एक साल के ₹ 12,00,000 से अधिक कमाता है, वो उच्च-आय वाला देश है।

पर कैपिटा इनकम क्या है

पर कैपिटा इनकम का शॉर्ट फॉर्म पीसीआई (PCI) हैं इसे हम एवरेज इनकम भी बोलते है। किसी देश की पर कैपिटा इनकम निकलने के लिए उस देश की टोटल इनकम को उस देश की टोटल पापुलेशन से डिवाइड कर दिया जाता है, यानी की देश की कुल आय को उसकी कुल जनसंख्या से भाग दे दिया जाता है।

भारत का पर कैपिटा इनकम

भारत 2006 में कम-आय वाला देश था, फिर बाद मैं भारत भी निम्न-मध्यम-आय वाला देश बन गया। भारत का पडोसी देश चीन उच्च-मध्यम-आय वाला देश है, जबकी अमेरिका और रूस उच्च-आय वाले देशों में आते है। अगर हम रूस और अमेरिका की तुलना करे तो। अमेरिका में एक आम आदमी एक महीने के लगभग 3 से 4 लाख कमाता है तो वही रूस में एक आम आदमी एक महीने के लगभग 1 लाख 50 हज़ार तक कमा लेता है लेकिन दोनों उच्च-आय वाले देश है।

आगे पढ़िए: चीनी रॉकेट के हिस्से रिहायशी इलाकों में गिरे, आसमान में फैल गई जहरीली गैस

विश्व बैंक के अनुसार यूक्रेन जो 2022 से बड़े पैमाने पर रूसी आक्रमण से जूझ रहा है, 2023 में आर्थिक विकास फिर से शुरू होने के बाद निम्न-मध्यम-आय से उच्च-मध्यम-आय की स्थिति में आ गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
%d bloggers like this: