कौन हैं NBTC ग्रुप के KG Abraham जिसकी वजह से kuwait के मंजफ शहर में ज़िंदा जलने से 40 भारतीयों की मौत हो गई

कौन हैं NBTC ग्रुप के KG Abraham जिसकी वजह से kuwait के मंजफ शहर में ज़िंदा जलने से 40 भारतीयों की मौत हो गई

कुवैत देश के मंजफ शहर में 12/जून सुबह 4:00 बजे एक बिल्‍ड‍िंग में भीषण आग लगने के कारण 49 लोगों की मौत हो गई है और 50 घायल है जिन सभी का अल-अदन अस्पताल में इलाज जरी है । कुवैत में भारतीय राजदूत आदर्श स्वैका ने बताया है कि मरने वालों में 40 भारतीय हैं। बिल्‍ड‍िंग में करीब 160 लोग रहते थे जो एक ही कंपनी के कर्मचारी हैं (NBTC) एनबीटीसी कंपनी।

कुवैत के उपप्रधानमंत्री शेख फहद यूसुफ सौद अल-सबाह ने इस भीषण आग के लिए रियल एस्‍टेट ऑनर को जिम्‍मेदार ठहराया है और कहा की बिल्डिंग ऑनर की लालच की वजह से यह घटना घटित हुई है। कानून का उल्लंघन करने वाले बिल्डिंग मालिकों के खिलाफ़ सख़्त कदम उठाए जाएँगे। शुरुआती जांच में शॉर्ट सर्किट वजह बताई गई थी लेकिन अभी भी आग लगने के कारणों की जांच की जा रही है।

बिल्डिंग में आग लगने की सुरवात रसोई-घर से हुई, जिस 6 मंजिला बिल्‍ड‍िंग में आग लगी उसका इस्तेमाल कर्मचारी के आवास के लिए किया जाता था वहां बड़ी संख्या में कर्मचारी रहते थे। यह बिल्डिंग (NBTC) एनबीटीसी ग्रुप का बताया गया है कुवैत मीडिया रिपोर्ट्स में बिल्डिंग को मलयाली बिजनेसमैन केजी अब्राहम(KG A braham ) का बताया गया है। अस्पताल के अधिकारियों द्वारा सभी घायल पीड़ितों की हालत स्थिर बताई गई है। कुवैत में भारतीय कर्मचारी की तादाद करीब 9 लाख है।

भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस दुखद घटना पर प्रार्थना करता हुए या कहा की ” कुवैत शहर में आग लगने की घटना दुखद है। मेरी संवेदनाएँ उन सभी लोगों के साथ हैं जिन्होंने अपने प्रियजनों को खो दिया है। मैं प्रार्थना करता हूँ कि घायल लोग जल्द से जल्द ठीक हो जाएँ। कुवैत में भारतीय दूतावास स्थिति पर बारीकी से नज़र रख रहा है और प्रभावितों की सहायता के लिए वहाँ के अधिकारियों के साथ मिलकर काम कर रहा है”।

आगे पढ़िए: भारतीय एस्ट्रोनॉट सुनीता विलियम्स की तीसरी अंतरिक्ष यात्रा पर इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन पर स्वागत

पीड़ितों को भारतीय दूतावास ने पूरी सहायता का आश्वासन दिया और एक इमरजेंसी हेल्पलाइन नंबर (+965-65505246) को शुरू किया है। जिसमें दूतावास हर संभव सहायता कराएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
%d bloggers like this: